कद 7 फुट 1 इंच | पहली बार जब उसने बेंच प्रेस लगाई तो 90 किलो का भार आसानी से उठा लिया | 3 से 4 साल की ट्रेनिंग के बाद उसने 200 किलो से ज्यादा बेंच प्रेस की | फ्रंट प्रेस वो 120 किलो की 8 रेपेटिशन, 300 किलो की स्कवैट 120 किलो की बारबैल कर्ल, अपने 170 किलो वेट के साथ बीस्ट चिन – अपस की आम बात है | बॉडी बिल्डिंग को एक खेल की तरह कराने से पहले वो 17 मीटर शॉटपुट फेंक चुका था परन्तु विभिन्न जोड़ों में खिंचाव उत्पन्न होने की वजह से
उसने बॉडी बिल्डिंग की तरफ ज्यादा ध्यान दिया | बॉडी बिल्डिंग ही ऐसा एक खेल है जिसमे किसी प्रकार की चोट लगने का डर नहीं रहता अगर पढ़े लिखे और समझदार कोच के नीचे बॉडी बिल्डिंग/ वेट ट्रेनिंग की प्रैक्टिस न की जाये तो पीठ में, घुटनो में, या गर्दन में अनवश्यक खिचाव होने का डर होता है |
दलीप क्या पहनता है ?
दलीप आमतौर पर बहुत खुली जीन की पैंट पहनता है ऊपर खुली टी- शर्ट पहनता है | कुछ समय के लिए जब वो अंतर्राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगता में भाग लेता था तो स्लीवलैस सकीवी डालता था जो उसे खास तौर पर बनवानी पड़ती थी | सर पर स्कारफ़ बांधने का भी बहुत शौक है |
दलीप की खुराक क्या है ?
दलीप आम आदमी से कुछ ज्यादा नहीं खाता परंतु उसे चिकन. अंडे तथा दूध अछे लगते है | डा. रणधीर से ट्रेनिंग लेने से पहले वह बहुत ज्यादा खाता था और बिना बात के चपाती और चावल खाता था | तारा के सप्लीमेंट बॉडी ग्रो और अमीनो मास शायद ही किसीने इतने खाए हो जितने कि दलीप ने खाए है | एक समय में वह चार किलो की अमीनो मास पैकिंग ले जाता था तथा साथ में वेज प्रो खाता था | अमरीका में कुश्ती की ट्रेनिंग कि दौरान भारत से तारा का अमीनो मास काफी मात्रा में दलीप को भेजा गया था |

दिलीप की छाती ?
दिलीप की छाती ६४ इंच है तथा उसकी छाती की स्टरनिस हड्डी बहार की तरफ है |
१) दिलीप की पीठ कैसी है?
दिलीप की पीठ की बनावट में लैट्स की मांसपेशियां बहुत मजबूत है जो एक पूरा वी – आकार बनाती हैं परन्तु उसकी रीढ़ की हड्डी पीछे की तरफ कुब की तरह उभरी हुई है जो काइपोजिज रीड की हड्डी में दोष के कारण है | यह कारण जट व्यक्तियों को आमतौर पर होता है |
२) दिलीप का चेहरा व सर कैसा है ?
दिलीप का चेहरा व सर इतना बड़ा है कि कोई भी टोपी उसके सर पर नहीं आती |उसके सर का नाप २९ इंच है
|दिलीप कि ठोडी अपने नवाक कि सिधाई से २ इंच आगे है और माथे की हड्डी सामान्तर ज़मीन की तरफ न जाते हुए पीछे की तरफ झुकी हुई है |यह सब बातें दिलीप जैसे आकार के प्राणियों में अकसर पाई जाती है |दिलीप का इतना शक्तिशाली होना अपने आप में एक रोग का कारण है |जो उसे एक वरदान के रूप में प्राप्त हुआ है | इसलिए उसके अन्य भाई बहन नार्मल आकार के हैं |
३) दिलीप सिंह की टाँगें कैसी है ?
दिलीप के विभिन अंगों के अनुसार उसकी टांगे ज्यादा मजबूत नहीं हैं क्योंकि उसकी टांगे नो नी जैसे विकार से ग्रस्त है | जिन लोगों की टांगे नो नी होती है उनमें दौड़ने की क्षमता कम हो जाती है |परन्तु इस सब विकार के साथ उसकी टांगे बहुत मजबूत हैं | परन्तु वो ३०० किलो स्क्वैट लगाता रहा है | दिलीप सिंह की पिंडलियां २३ इंचज् आकार की हैं और मांसपेशियों की बनावट अंतरराष्ट्रीय बॉडी बिल्डर जैसी | दिलीप सिंह के पैर भी फ्लैट फुट हैं | जिसकी वजह से चलते समय अपनी एड़ियों का प्रयोग कम करता हैं और एक दैत्य की तरह चलता हैं |



Bestselling Products

Bestselling Brands



OWN A FRANCHISE

GET IN TOUCH

HELP CENTER


Thank you for subscribing! Use Coupon Code: BBI5

Pin It on Pinterest

Share This