kyo-jaroori-hai
भोजन हमेशा ठीक प्रकार से चबा कर खाना चाहिये। ठीक प्रकार से भोजन चबा कर खाने के कई जरुरी कारण हैं। अच्छी प्रकार से भोजन चबा कर खाने से पेट में रसायन का स्राव होता है जिससे खाना अच्छी प्रकार से हज़म हो जाता है। साथ ही आप को जल्दी जल्दी भूख भी नहीं लगती और वजन भी नियंत्रण में रहता है।

क्या होता है जब आप खाना चबाते हैं?
जब आप खाना चबाते हैं तो वह बारीक टुकड़ों में बंट जाता है और मुंह की लार उसमें मिल जाती है| खाना पचने की शुरुआत लार से ही होती है. फिर यह पेट में जाता है जहां एसिड इसमें मिलता है|यह विघटित खाना आंतों में आगे बढ़ता जाता है. इस प्रक्रिया में पानी और पोषक तत्व आंतें अवशोषित कर लेती हैं और फाइबर का न पचने वाला हिस्सा और दूसरे पदार्थ बाहर निकल जाते हैं|खाने को अच्छे से चबाना इस प्रक्रिया को अच्छी शुरुआत देता है और यह आगे भी ठीक तरीके से बढ़ती है|खाने को ज्यादा देर तक चबाने से आप कम खाना तो खाते ही हैं साथ ही खाने के दो घंटे बाद कुछ हल्का-फुल्का खाने की आदत भी नियंत्रित हो सकती है|
चबाने से पाचन शक्ति को बहुत सहायता मिलती है और उससे तमाम पाचन अवयवों पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। हम नित्य ऐसी चीजें बहुत खाते हैं जिनके अन्दर मैदा बहुत होता है। इससे यह आवश्यक प्रतीत होता है कि भोजन को खूब चबाने की आदत डाली जाये, ताकि वह आमाशय में जाकर भली भाँति हजम हो सके। बल्कि हाजमे के दरवाजे ही पर उसे खूब बारीक कर लेना चाहिये।
जब हम ज़ल्दी में खाना खातें है तो उसमे उचित मात्रा में लार नही मिल पाता जो कि पाचन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है| इसमें विद्युत अपघट्य (electrolytes) जैसे – सोडियम, पोटेशियम, क्लोराइड आयन आदि तथा पाचन इन्जाइम जैसे – टायलीन और लाईसोजाइम होते हैं जो पाचन के लिए अपरिहार्य हैं|

कैसे चबाना चाहिये आहार
भोजन को एक साथ ना खा कर बल्कि उसके छोटे-छोटे टुकडे कर के खाना चाहिये। छोटे टुकडे़ आसानी से चबाए और निगले जा सकते हैं। खाघ पदार्थ को तब तक चबाएं जब तक कि वह आपके मुंह में पूरी तरह से घुल ना जाए, भले ही वह सूखा या गीला पदार्थ ही क्यों ना हो। भोजन को कभी भी तुरंत ना निगले। इस भली प्रकार से चबाएं और तभी निगलें। भोजन को निगलने के बाद कुछ देर रुके और तब दूसरा कौर लें। अगर भोजन अटक जाए तब थोड़ा सा पानी पिएं और शांत हो जाएं।

ठीक प्रकार से चबाने का फायदा
जब आप अपने खाने को पर्याप्त मात्रा में चबाते हैं तो खाना बहुत छोटे टुकड़ों में बट जाता है और तरल हो जाता है|जिससे पाचन काफी आसानी से हो जाता है, आतें सहेतमंद होती हैं और कब्ज़ (constipation) की शिकायत नही होती|
अगर आप एक कौर को बार चबाएंगे तो इससे जो लार निर्मित होगा वह दांतों में से अनावश्यक जमा भोजन के टुकडे और परत को साफ कर देगा और बैक्टेरिया का सफाया कर देगा|इससे आपके दांत स्वस्थ्य और मज़बूत रहेंगे|
लीवर का मुख्य कार्य पाचन और मेटाबोलिक प्रक्रिया को सुचारू रखना है| अगर आप खाने को पर्याप्त मात्रा में चबातें है तो लीवर का काम आसान हो जाता है|
जब आप धीरे से खाते हैं तो आपका दिमाग आपको एक सिगनल भेजता है कि अब आपका पेट भर चुका है। इससे मोटापा कम करने में भी मदद मिलती है क्योंकि तब आप ज्यादा नहीं खा सकते।
यदि आप ठीक प्रकार से खाना चबाएंगे तो यह आपके मुंह को भी फायदा पहुंचाएगा। मुंह की लार मुंह की बदबू और कीटाणुओं से लड़ने में मददगार होती है। इसमें हाइड्रोजन कार्बोनेट होता है जो कि प्लेग को पैदा होने से रोकता है।



Bestselling Products

Bestselling Brands



OWN A FRANCHISE

GET IN TOUCH

HELP CENTER


Thank you for subscribing! Use Coupon Code: BBI5

Pin It on Pinterest

Share This